होम समाचार राष्ट्रीय खबर हरियाणा के इस गांव के बारे में सुना है, जिसका नाम है ट्रंप विलेज

हरियाणा के इस गांव के बारे में सुना है, जिसका नाम है ट्रंप विलेज

0
332

हरियाणा का एक गांव सुर्खियों में है। गांव ने काम भी ऐसा किया है कि हरियाणा में ही नहीं इस गांव के पूरे देश में चर्चा की जा रही है। एक एनजीओ ने इस गांव का नाम बदलकर ट्रंप विलेज कर दिया है लेकिन इसके लिए कोई सरकारी अनुमति नहीं ली गई। यहीं कारण है आज ये गांव अंतरराष्ट्रीय मीडिया में भी छा गया है।

भारत-अमेरिकी रिश्ते को बढ़ावा देने के लिए एनजीओ सुलभ के संस्थापक बिंदेश्वर पाठक ने मेवात क्षेत्र के मरोड़ा गांव का नाम बदलकर ट्रंप विलेज रख दिया है।

इसी कड़ी में मंगलवार को गांव में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें ट्रंप के नाम के बैनर के साथ कई नारे लिखे दिखे, जिसे स्कूली बच्चों ने अपने हाथों में पकड़ रखा था। वहीं अधिकारियों की माने तो उन्होंने लगातार इस समारोह को ना करने के लिए कहा था, लेकिन उनकी बातों को नजरअंदाज कर दिया गया।

जिले के डिप्टी कमिश्नर मणि राम शर्मा ने कहा है कि हमने बार-बार उनसे इस नाम को ना रखने के लिए कहा था, लेकिन उन्होंने कोई बात नहीं सुनी। उन्होंने किसी की अनुमति के लिए नहीं पूछा बस नाम बदल दिया।

बता दे कि ये मामला करीब एक महीने पहले शुरू हो गया था। जब सुलभ के संस्थापक बिंदेश्वर पाठक ने अमेरिका में एक कार्यक्रम में कहा था कि वो उस गांव का नाम बदलना चाहते है जहां वो शौचालय बनवा रहे हैं। वो उस गांव का नाम ट्रंप विलेज रखना चाहते है।

यह भी पढ़ें:  रेलवे देगा 10 लाख लोगों को रोजगार या फिर ये है चुनावी हथकंडा ?

गांव के बड़ो की माने तो उन्होंने गांव के विकास की सोचकर इस नाम को बदलने की अनुमति दे दी थी। वहीं जिले के डिप्टी कमिश्नर मणि राम शर्मा ने इन सभी चीजों को गैरकानूनी और फर्जी बताया है।

मंगलवार को अधिकारियों द्वारा चेतावनी के बाद भी सुलभ द्वारा नए व्यावसायिक केंद्र का उद्घाटन करने के लिए एक समारोह किया गया। मिली जानकारी के अनुसार, कोशिश की जा रही है कि वो इस गांव का नाम बदलकर ट्रंप विलेज करवा सके। खैर इतना कहा जा सकता है कि ये सब अपने देश में ही हो सकता है।

अधिक में लोड करें राष्ट्रीय खबर

प्रातिक्रिया दे

इसके अलावा चेक करें

राष्ट्र निर्माण संगठन ने शुरू किया देश को बचाने का अंतिम प्रयास

राष्ट्र निर्माण संगठन की तरफ से भारत की बढ़ती जनसंख्या को लेकर चिंता जाहिर की गई है। संगठन…