होम समाचार राष्ट्रीय खबर जियो फोन सच में फ्री है, इस फ्री के पीछे मुकेश अंबानी का बड़ा प्लान है

जियो फोन सच में फ्री है, इस फ्री के पीछे मुकेश अंबानी का बड़ा प्लान है

0
2,647

हमारे देश में फ्री का नाम सुनते ही लोग पागल हो जाते है, भागने लगते है इधर-उधर जैसे की वो फ्री वाली चीज ना मिली तो पता नहीं मर ही जाएंगे। ऐसा ही कुछ पिछले एक साल से देश में हो रहा है। पहले सिम और अब फोन, हम बात कर रहे है रिलायंस जियो की। जियो जबसे आया है धूम मचा रखी है। लेकिन सोचा है क्या ये जियो फोन सच मे फ्री है। कहने के लिए फ्री लेकिन इसके पीछे मुकेश अंबानी का जो दिमाग है उसे समझना इतना भी आसान नहीं है।

आज वायरल इंडिया न्यूज आपको ये फ्री वाले फोन की असली कहानी बता रहा है।

हम सबसे पहले एक अनुमान लगा कर चलते है कि 70 करोड़ फीचर फोन ग्राहकों में से 20 करोड़ ग्राहक जियो फोन का इस्तेमाल करेंगे, यानी की 20 X1500 जो कि सिक्योरिटी के तौर पर लिया जाएगा, हुआ कुल 30000 करोड़। अब हर ग्राहक 153 रूपए का रिचार्ज कराएगा यानी 20 करोड़ X 153 रूपए X 12 महीने, संख्या हुई 36720 करोड़ रूपए (1 साल का राजस्व – 30000+36720) = 66720 करोड़ रूपए। अभी हैरान मत हुए।

अब जरा ध्यान लगाए ये सिर्फ 20 करोड़ ग्राहक का आकड़ा है, अगर 10 फीसदी ग्राहक और मान ले तो करीब होगा 74431 करोड़ रूपए।

यह भी पढ़ें:  गुजरात - भाजपा पार्षद की स्थानीय लोगों ने पेड़ से बांधकर पिटाई कर डाली!

अब, जमाराशि से 30,000 करोड़ रुपए एकत्र किए जाने से वह निवेश के जरिए 12% रिटर्न अर्जित कर सकते है। तो 3 सालों में कमाई 74431 करोड़ रूपए हो जाएगी। इसमें वो इस पैसे को लगाएंगे भी यानी और पैसा।

जब कंपनी 3 साल बाद पहले साल वाले ग्राहकों को पैसे वापस देगी तो भी कुछ ही पैसे इधर उधर होगा और बचेगा करीब 55231 करोड़ रूपए। अब 3 साल बाद 20 करोड़ ग्राहक का मतलब है कि 20 करोड़ X 303 X 12 महीने = 72720 करोड़ रूपए।

आगे सुनिए अब, जियो फीचर फोन + जियो ग्राहक = 55231 करोड़ + 72720 करोड़ = 129751 करोड़ रूपए 2020 तक। यह किसी भी उद्योग के आकार से बड़ा है।

कुछ भी फ्री नहीं है भाईसाहब, ध्यान से देखे, ये एक गेम है। कंपनी फ्री में नहीं प्लान के तहत दे रही है।

अधिक में लोड करें राष्ट्रीय खबर

प्रातिक्रिया दे

इसके अलावा चेक करें

राष्ट्र निर्माण संगठन ने शुरू किया देश को बचाने का अंतिम प्रयास

राष्ट्र निर्माण संगठन की तरफ से भारत की बढ़ती जनसंख्या को लेकर चिंता जाहिर की गई है। संगठन…